• Tuesday, July 05, 2022 04:59:41 IST

KVS Logo

केन्द्रीय विद्यालय पलवल, गुड़गांवमा सं वि मंत्रालय भारत सरकार के अधीन एवं स्वायत्त निकायसीबीएसई संबद्धता संख्या : 500015 सीबीएसई स्कूल संख्या :

Menu

हमारा विजन

शिक्षा का साझा कार्यक्रम प्रदान करके रक्षा और अर्ध-सैन्य कर्मियों सहित हस्तांतरणीय केंद्र सरकार के कर्मचारियों के बच्चों की शैक्षिक आवश्यकताओं को पूरा करना;

उत्कृष्टता को आगे बढ़ाने और स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में गति निर्धारित करने के लिए;

अन्य निकायों जैसे केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड और राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद आदि के सहयोग से शिक्षा में प्रयोग और नवोन्मेष को आरंभ करना।

हमारा मिशन

शिक्षा का एक आम कार्यक्रम प्रदान करके रक्षा और अर्ध-सैन्य कर्मियों सहित हस्तांतरणीय केंद्र सरकार के बच्चों की शैक्षिक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए;

उत्कृष्टता को आगे बढ़ाने और स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में गति निर्धारित करने के लिए

घोषणाएँ - View All

  • 12 May

    ADMISSION NOTICE 2022-23

  • 10 May

    PROVISIONAL ADMISSION LIST3 CLASS1 SESSION 2022-23

  • 06 May

    PROVISIONAL ADMISSION LIST2 CLASS 1 SESSION 2022-23

  • 29 Apr

    PROVISIONAL ADMISSION LIST1 CLASS 1 SESSION 2022-23

  • 21 Apr

    PROVISIONAL ADMISSION LIST CLASS 3 TO9 SESSION 2022-23

  • 21 Apr

    LOTTERY LIST CLASS 3 TO 8 SESSION 2022-23

  • 21 Apr

    LIST OF QUALIFIED CANDIDATES FOR ADMISSION OF CLASS 9

  • 16 Apr

    WITHHOLDING OF ONLINE ADMISSION LOTTERY FOR CLASS 1 FOR SESSION 2022-23

  • 15 Apr

    Admission test for class 9th

  • 11 Apr

    EXTENSION OF LAST DATE OF CLASS 1 ADMISSION FROM 11.04.202 TO 13.04.2022

आयुक्त का संदेश

संदेश

केन्द्रीय विद्यालय संगठन के स्थापना दिवस के अवसर पर समस्त शिक्षकवृंद, अधिकारीगण, कार्मिकों, विद्यार्थियों एवं अभिभावकों को हार्दिक शुभकामनाएं।

जारी रखें...

(आयुक्त का संदेश) आयुक्त

कोई डेटा उपलब्ध नहीं है

प्रधानाचार्य का संदेश

आप में से एक के रूप में, मैं समझता हूं और हमारे सामने सबसे कठिन और चुनौतीपूर्

जारी रखें...

(Principal) प्रिंसिपल

केवी के बारे में पलवल, गुड़गांव

आप में से एक के रूप में, मैं समझता हूं और हमारे सामने सबसे कठिन और चुनौतीपूर्ण कार्य की सराहना करता हूं। एक बच्चे की नियति को आकार देना हममें से प्रत्येक के लिए बड़े गर्व की बात है। शिक्षा का मुख्य उद्देश्य दुनिया में अन्य जीवित प्राणियों के साथ हर व्यक्ति में अपने स्वयं के सामंजस्य में सामंजस्य - सामंजस्य स्थापित करना है। इसलिए हमारा लक्ष्य हमेशा पाठ्यचर्या और सह-पाठयक्रम गतिविधियों के माध्यम से व्यक्तित्व संवर्धन रहा है। शिक्षण एक कैरियर या एक पेशे से बहुत अधिक है। यह (शिक्षण) एक जिम्मेदार नागरिक में बच्चे को ढालने और आकार देने की सबसे...